उसेंडी ने पखांजूर की जनता से किया छलावाः टूलू भट्टाचार्य

[email protected]अंतागढ़. विधायक अनूप नाग के प्रतिनिधि टुलु भट्टाचार्य ने बयान जारी करते हुए पूर्व सांसद विक्रम उसेंडी पर तीखा प्रहार किया है। भट्टाचार्य ने कहा कि जनता की बात कहने वाले नेता आज जनता जनार्दन शब्द को भूल चुके हैं। जिस जनता के जरिये विक्रम उसेंडी शिक्षक से मंत्री तक का सफर तय कर लोकप्रिय नेता बने थे।
विधायक अनूप नाग के प्रतिनिधि टुलु भट्टाचार्य ने बयान जारी करते हुए पूर्व सांसद विक्रम उसेंडी पर तीखा प्रहार किया है। भट्टाचार्य ने कहा कि जनता की बात कहने वाले नेता आज जनता जनार्दन शब्द को भूल चुके हैं। जिस जनता के जरिये विक्रम उसेंडी शिक्षक से मंत्री तक का सफर तय कर लोकप्रिय नेता बने थे, परंतु आज उसी जनता के उम्मीदों को तार-तार कर डाला है। वर्तमान में भानुप्रतापपुर, अंतागढ़ और पखांजूर, तीनों जगहों के क्षेत्रीय लोग अपने अपने मुख्यालय को जिला बनाने की मांग कर रहे हैं।
ऐसे में सिर्फ अंतागढ़ के जनता के साथ बैठकर आंदोलन का समर्थन करना और अंतागढ़ को जिला बनाने की मांग करना। पखांजूर इलाके के लिए पक्षपात जैसा ही है। सभी जानते है कि अंतागढ़ विधानसभा के अस्सी फीसदी जनता पखांजूर इलाके में निवासरत हैं, जो विधानसभा की निर्णायक वोटर के नाम से भी जाना जाता है, और जिस पखांजूर को अंतागढ़ विधानसभा का वोट बैंक कहा जाता है। जिस व्यक्ति को पखांजूर इलाके की जनता ने एक शिक्षक से मंत्री तक के दर्जे तक पहुंचाने में अपनी अहम भूमिका निभाई। उस क्षेत्र की जनता के स्नेह, सम्मान और उम्मीदों पर खरा उतरने के बजाय विक्रम उसेंडी ने सिर्फ धोखा दिया है। परलकोट की जनता ने विक्रम उसेंडी को पिछले 15 वर्षो तक अपना मत देकर प्रतिनिधित्व करने का मौका दिया, विधायक, वनमंत्री,सांसद जैसे पदों पर विराजमान हुए थे। जिसमें परलकोट के जनता की अहम भूमिका रही। परंतु आज जब पखांजूर, अंतागढ़ और भानुप्रतापपुर में जिला बनने की जंग छिड़ी हुई है तब विक्रम उसेंडी के द्वारा नगर पंचायत अंतागढ़ में बैठे ग्रामीणों के धरने में जाकर अंतागढ़ को जिला बनाने का खुला समर्थन करना परलकोट की जनता से किया गया बहुत बड़ा विश्वासघात है।

पखांजुर से बिप्लब कुण्डू के रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Need Help? Contact Me!