ग्राम सभा मे गौण तेंदूपत्ता,चार चिरौंजी,महुआ,लाख,का संग्रहण कर विक्रय करने का सर्वसमति से लिया गया निर्णय–

[email protected]पखांजुर.बडगांव :- वन अधिकार कानून के तहत ग्राम सभा गौण वनोपोज ग्राम सभा कर ग्रामीण गौण तेंदुपत्ता चार चिरौंजी टोरा महुआ बॉस ठूठ लाख वन औषधि संग्रहण कर विक्रय करने का सर्वसमती से निर्णय लिया गया हैं अनुसूचित जाती जनजाति अन्य परम्परगत वन निवासी वनाधिकार मांयन्ता कानून 2006 नियम 2007 नियम 2008 तथा संसोधित नियम 2012 यहां अधिकर दिया गया हैं, किंतु वनाधिकार कानून की वन विभाग के द्वारा अवेलहना किया जा रहा हैं जो की वनाधिकार कानून के व ग्राभ सभा के खिलाप हैं उक्त बयान संयुक्त ग्राम सभा संयोजक सुखरंजन उसेंडी ने मीडिया से चर्चा करने के दौरान बताया हैं । जिसको बेचने का निर्णय भी जनजातीय समूह परम्परागत तरीके से वन अधिकार कानून के तहत स्वयं ग्राभ सभा ने संग्रहण कर ओर बेचने का भी निर्णय यहां के ग्रामीणों ने लिया हैं चुकी पांचवी अनुसूचित क्षेत्र 2441 अनुछेद 13 क 195 पेशा कानून में यहां प्रवधान दिया गया हैं जिसको लेकर आदिवासी समाज के संयोजक सुखरंजन उसेंडी ने इसका पालन कराने के लिए सभी वीभगीय अधिकारियों को पत्र भी लिखा हैं ओर महामहिम राज्यपाल के नाम पर पखांजूर अनुविभगीय अधिकरी को ज्ञापन भी सौंपा है जिसके बाद डोटोमेटा के ग्रामीण ने इन्ही कानूनों के अधिकार के तहत विजय नेताम ने तेंदूपत्ता संग्रहण का क्रय करना शुरू कर दिया ओर कुल संग्रहित 114 ,930मानक बोरा से 26 ,100 मानक बोरा मानक बोरा का भी परिधान किया हैं जिसकी जानकारी वन वीभग के अधिकारियों को लगी विभाग ने वन अधिकार कानून की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं वहां के फड़मुंशी विजय नेताम को 88 ,830 मानक बोरा शेष कहते हुए ठेकेदार को संपर्क कर उनको खरीदी करने के लिए निर्देशित करने की बात कर रहे हैं वही यहां पत्र उपवंनमडल अधिकारी पूर्व कापसी ने जारी करते हुए कहा हैं की ऐसा नही किया जाता हैं तो आपके विरुद्ध प्राथमिकता दर्ज के साथ कानूनी कार्यवाही की बात लिखी हैं यहां पत्र मिलते ही यहां के ग्रामीणों ने वीभगीय अधिकारियों के खिलाप मोर्चा खोल दिया हैं और इस पत्र का विरोध आदिवासी समाज के संयोजक सुखरंजन उसेंडी ने कड़ी चेतवानी देते हुए अपना प्रतिक्रिया देते हुए कहा हैं की अनुसूचित इलाके में संग्रहण कर बिक्री ग्राम सभा के माध्यम से करने का प्रावधान हैं लेकिन वन विभाग के अफसर इस नियम को लेकर गंभीर नही हैं इस पत्र को लेकर समाज के लोगों ने आक्रोश जताते हुए कहा हैं की उच्चाधिकरियो से चर्चा कर उपवंनमडल अधिकारी के खिलाप शिकायत की जॉयेगी नही मनाने पर हाईकोर्ट बिलासपुर में इन कानूनों के नियम के तहत एक जनहित याचिका दायर की जॉयेगी ,,,

 

 

 

पखांजुर से बिप्लब कुण्डू

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Need Help? Contact Me!