अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर उत्साह एवं खुशी के माहौल में जिला स्तरीय योग महोत्सव का आयोजन*

[email protected]राजनांदगांव . अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर उत्साह एवं खुशी के माहौल में जिला स्तरीय योग महोत्सव का आयोजन आज सुबह कृषि उपज मंडी प्रांगण राजनांदगांव में किया गया। योग फॉर ह्यूमैनिटी पर केन्द्रित इस कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ योग आयोग के सदस्य श्री रविन्द्र सिंह शामिल हुए। इस दौरान कलेक्टर श्री तारन प्रकाश सिन्हा ने भी योगाभ्यास किया। बड़ी संख्या में बच्चे एवं नागरिकों ने योगाभ्यास एवं प्राणायाम किया। करें योग रहें निरोग का संदेश सभी को दिया गया। छत्तीसगढ़ योग आयोग के सदस्य श्री रविन्द्र सिंह ने सभी को योग को अपने जीवन का अभिन्न हिस्सा बनाने के लिए शपथ दिलाई।
छत्तीसगढ़ योग आयोग के सदस्य श्री रविन्द्र सिंह ने सभी को योग दिवस की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए कहा कि योग के माध्यम से हम शरीर एवं मन को तंदुरूस्त करते हैं। नियमित रूप से योग करने पर शरीर में ऊर्जा का संचार होता है। विपरीत परिस्थितियों में भी मनुष्य सामान्य बने रहते हैं। योग विभिन्न प्रकार के रोग को दूर करने का सरल माध्यम है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ योग आयोग के माध्यम से रोजगार देने की दिशा में भी कार्य किया जा रहा है। इसके पहले 200 व्यक्तियों को रोजगार दिया गया और शीघ्र ही 5 हजार भर्तियां की जाएंगी। उन्होंने बताया कि योग आयोग की ओर से मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल को विद्यालय एवं महाविद्यालय में योग को शामिल करने के लिए आग्रह किया है। युवाओं को नशा एवं अपराध से दूर रखते हुए उनके जीवन को सही दिशा देने के लिए योग, ज्ञान एवं ध्यान आवश्यक है। इसके माध्यम से जीवन को संतुलित किया जा सकता है।
कलेक्टर श्री तारन प्रकाश सिन्हा ने कहा कि स्वस्थ रहने के लिए योग को अपनी दिनचर्या में शामिल करें। योग से हमारे जीवन में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। योगासन हमारी रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं और बीमारियों को दूर करते हैं। इसे एकाग्रता और याददाश्त शक्ति बढ़ती है तथा आत्मविश्वास, इच्छाशक्ति एवं निर्णय क्षमता का भी विकास होता है। यह खुशी की बात है कि आज योग दिवस के अवसर पर बड़ी संख्या में स्कूली बच्चों के साथ नागरिकों ने भी भाग लिया है। जनसामान्य में योग के प्रति जागरूकता लाने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। अपने व्यस्त दिनचर्या से समय निकालकर योगासन करने से हमेशा स्वस्थ रह सकते हैं।
योगाभ्यास के दौरान योगासन की विशेषताओं से नागरिकों को कराया गया परिचित –
सूर्य नमस्कार के अंतर्गत प्रणामासन, हस्त उत्तानासन, पाद हस्तासन, अश्व संचालनासन, पर्वतासन, अष्टांग नमस्कार, भुजंगासन, पर्वतासन, अश्व संचालनासन, पाद हस्तासन, हस्त उत्तानासन, प्रणामासन, ताड़ासन, पवन मुक्त आसन, शव उदराकर्षणासन, शीतलीकरण, वज्रासन, अद्र्धतितली आसन, पूर्ण तितली आसन, अद्र्ध पुष्टासन, वक्रासन, मकरासन, सेतुबंध आसन, उक्तांगपाद आसन, कपालभाति, अनुलोम-विलोम, भ्रामरी प्राणायाम किया गया। इस दौरान सभी आसन की विशेषताओं से नागरिकों को परिचित किया गया। कपालभाति मास्टर प्राणायाम में जिसमें शरीर के प्रत्येक कोशिका तक ऑक्सीजन की आपूर्ति होती है। 40 बार लगातार लंबी गहरी श्वांस लेकर छोडऩे से 99 प्रतिशत बीमारियां के लिए यह रामबाण ईलाज है। नाड़ीशोधन प्राणायाम या अनुलोम-विलोम प्राणायाम मास्टर प्राणायाम है। जिससे कोशिकाएं ठीक होती हैं और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।
आयुष विभाग राजनांदगांव की ओर से कार्यक्रम में उपस्थित सभी नागरिकों को रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले स्वास्थ्यवर्धक काढ़ा का किया गया वितरण-
आयुष विभाग राजनांदगांव की ओर से कार्यक्रम में उपस्थित सभी नागरिकों को रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले स्वास्थ्यवर्धक काढ़ा का वितरण किया गया। वहीं ओआरएस कार्नर में नन्हे बच्चों को ओआरएस घोल भी पिलाया गया। योग के प्रति जनमानस में जागरूकता लाने के लिए योग पथ प्रदर्शिका का किताब तथा आयुष विभाग द्वारा अष्टांग योग, मधुमेह, ह्दय रोग, कमर दर्द के लिए योग आसन एवं प्राकृतिक चिकित्सा संबंधी ब्रोसर का वितरण किया गया। इस अवसर पर जिला पंचायत सीईओ श्री लोकेश चंद्राकर, अपर कलेक्टर श्री सीएल मार्कण्डेय, नगर निगम आयुक्त श्री आशुतोष चतुर्वेदी एवं अन्य अधिकारियों ने योगाभ्यास किया। कार्यक्रम के अंत में एसडीएम श्री अरूण वर्मा ने आभार व्यक्त किया। योग प्रशिक्षक श्री हेमंत तिवारी, सुश्री संध्या तिवारी, साधना तिवारी, सुषमा गुप्ता एवं श्री डोमेन्द्र देवांगन ने योगाभ्यास कराया।

राहुल गौतम-राजनांदगांव

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Need Help? Contact Me!